सुल्तान मूवी स्टोरी हिंदी में -sultan movie story in hindi

सुल्तान मूवी स्टोरी हिंदी में

सुल्तान मूवी स्टोरी हिंदी में

मूवी डिटेल्स –

डिरेक्टेड बाई – अली अब्बास ज़फर
रिटेन बाई – अली अब्बास ज़फर
प्रोडूसेड बाई – आदित्य चोपड़ा
म्यूजिक बाई – जूलियस पैकिअम
रिलीज़ डेट – ६ जुलाई २०१६
स्टेरिंग – सलमान खान अनुष्का शर्मा , रणदीप हूडा , अमित साध

मूवी स्टोरी

सुल्तान अली खान (सलमान खान) एक मध्यम आयु का पूर्व-कुश्ती चैंपियन है,जो हरियाणा के छोटे से शहर में अकेला जीवन यापन कर रहा है। एक निजी मार्शल आर्ट लीग के संस्थापक आकाश ओबेरॉय (अमित साध) को अपने पिता द्वारा लीग की लोकप्रियता को सामान्य करने के लिए एक भारतीय पहलवान को नियुक्त करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। वह सुल्तान को एक प्रस्ताव देने के लिए हरियाणा को जाता है, और जब वह सुल्तान अली को यह प्रस्ताव को सुनाता है तो सुल्तान इस परस्ताव को मना केर देता है ,और कहता है कि मैं पूरी तरह कुश्ती लड़ना छोड़ चूका हु। इस लिए मैं कुस्ती नहीं लड़ सकता । और जब वह सुल्तान के करीबी दोस्त गोविंद (अनंत शर्मा) से मिलता है तो गोविन्द बताता है की कि सुल्तान का करियर कैसे शुरू हुआ।

आठ साल पहले, सुल्तान राज्य स्तर के पहलवान और एक स्थानीय कुश्ती कोच की बेटी आरफा हुसैन (अनुष्का शर्मा)  को देखते ही प्यार हो गया। लेकिन आरफा ने सुल्तान को एक दोस्त के रूप में स्वीकार किया। जब सुल्तान आरफा हुसैन से यह जाहिर करने लगा की वह उससे प्यार करता है ,तो उसने उसे यह कहते हुए अस्वीकार कर दिया कि वह अपने जैसे एक कुशल पहलवान से शादी करना चाहती है। तब से सुल्तान ने यह निश्चय लिया की उसे भी एक पहलवान बनना है और वह मेंहनत के साथ एक पहलवान बन गया । और वह एक राज्य स्तरीय कुश्ती टूर्नामेंट में जीत हासिल की । और साथ ही आरफा का प्यार जीत लिया । दोनों का विवाह हो गया और दोनों एक चैंपियन पहलवान बन गए । जो राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों जैसे विभिन्न अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में भारत की तरफ से खेलते थे।

जब ओलंपिक खेल के लिए दोनों का चयन होने की घोषणा की गई,तो आरफा गर्भवती थी। उसने भारत के लिए ओलंपिक खेल में स्वर्ण पदक जीतने के अपने बचपन के सपने को छोड़ दिया, तब उसके सपने को सुल्तान ने पूरा किया था। तभी उसके आश्चर्य के लिए, सुल्तान की उपलब्धि ने उसे अभिमानी बना दिया,और उसने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान गर्भ सुल्तान को बताया की मई गर्ब्वती हु । और आरफा ने सुल्तान को यह सूचित किया कि वह उसकी नियत तारीख के करीब है,फिर भी सुल्तान ने एक और अंतरराष्ट्रीय कुश्ती चैंपियनशिप जीतने के लिए आरफा को छोड़ दिया। और उसे जब वापस लौटने पर, वह यह जानकर हैरान रह गया कि उसके नवजात बेटे की गंभीर एनीमिया के कारण मृत्यु हो गई थी।

यह सुनकर सुल्तान टूट गया और उसे यह अहसास हुआ की मेरी अनुपस्थिति के कारन मेरे बेटे की जान गयी । इस बात से क्रोधित होकर, आरफ़ा ने सुल्तान को छोड़ कर अपने पिता के साथ रहने का फैसला किया। अपनी पत्नी और बच्चे को खोने से निराश होकर सुल्तान ने हरियाणा में ब्लड बैंक खोलने के लिए धन कमाना शुरू कर दीया । वर्तमान समय में आकाश ने सुल्तान को अपनी लीग में शामिल होने के लिए कहा और वादा किया कि टूर्नामेंट से जो धन राशि मिलेगी वह उस राशि से ब्लड बैंक खोल सकेगा। सुल्तान अनफिट और थके होने के बावजूद भी सहमत हो गया । और दिल्ली चल देता है,दिल्ली में आकाश उसे एक फ्रीस्टाइल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स कोच फतेह सिंह (रणदीप हुड्डा) से मिलवाता है।

फतेह सिंह के साथ दो महीने के प्रशिक्षण के बाद सुल्तान फिर से पहले जैसा सरीर हासिल कर लेता है । और वहा यह भी सीखता है कि फ्रीस्टाइल कुश्ती कैसे लड़नी है। इस तरह वह फिर एक बार कुस्ती चैंपियन बन जाता है और कई मैचों में जीत हासिल करता है। और फिर धीरे धीरे एक बार फिर से आरफ़ा का साथ हासिल करता है । जब कुस्ती में सेमीफाइनल राउंड होता है उसके दौरान, सुल्तान लड़ाई जीतता है

लेकिन गंभीर रूप से घायल हो जाता है। और उसे अस्पताल में भर्ती होना पड़ता है। डॉक्टर आकाश को सूचित करता है कि सुल्तान को फिर से नहीं लड़ना चाहिए, कहीं ऐसा न हो कि उसकी चोटें घातक जानलेवा न बन जाय । उसी समय आरफा हॉस्पिटल में सुल्तान से मिलने आती है । और सुल्तान को फाइनल कुस्ती के लिए प्रेरित करती है । और सुल्तान फाइनल कुस्ती लड़ने के लिए तैयार हो जाता है । और वह फाइनल टूनामेंट जीत लेता है । उसके बाद उस टूनामेंट से मिली धन रही से दोनों मिलकर एक ब्लड बैंक खोल लेते है । कुछ साल बाद आरफा एक बच्ची को जन्म देती है, जिसे सुल्तान पहलवान के लिए उसे प्रशिक्षित करना शुरू कर देता है।

सुल्तान मूवी स्टोरी हिंदी में

मूवी ट्रेलर-

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*