अंग्रेजी मीडियम मूवी स्टोरी इन हिंदी

अंग्रेजी मीडियम मूवी स्टोरी इन हिंदी

अंग्रेजी मीडियम कहानी

मूवी डिटेल्स –

डिरेक्टेड बाई – होमी अदजानिअ
प्रोडूसेड बाई – दिनेश विजन ,ज्योति देशपांडे
रिटेन बाई – भावेश मांडलिअ ,गौरव शुक्ल ,विनय चावल ,सारा बोडीनर
स्टेरिंग – इर्र्फान खान , करीना कपूर खान , दीपक डोबरियाल , राधिका मदन

मूवी स्टोरी-

अंग्रेजी मूवी एक बॉलीवुड मूवी है यह फिल्म हिंदी मीडियम का दूसरा पार्ट है। यह फिल्म होमी अदजानिया द्वारा निर्देशित की गयी है।
यह एक इमोसनल और कॉमेडीयन मूवी है। इस फिल्म में यह बतया गया है की कुछ ऐसी चीजे है जो की हमें अपने घेर या देश में मिल सकती है लेकिन हम उसे पाने के लिए इधर – उधर भटकते रहते है।

राजस्थान के उदयपुर गाव में चम्पक बंसल ( इरफ़ान खान ) नाम का एक आदमी रहता है। जिसकी एक मिठाई की दुकान है। चम्पक का भी गोपी (दीपक डोबरियाल ) से चम्पक से मिठाई की दुकान को लेकर अक्सर झगड़ा होता रहता था। चम्पक बंसल अपनी बेटी तरीका (राधिका मदान) से बहुत प्रेम करता है। चम्पक बंसल की पत्नी का कुछ समय पहले ही देहांत हो जाता है इसलिए वह खुद ही अपनी बेटी की परवरिश करता है। चम्पक की बेटी की पढाई ख़त्म होने वाली है , और वह आगे की पढाई लंदन में जाकर करना चाहती है। तरीका अपना यह सपना पूरा करना चाहती है। इस सपने को लेकर वह अपने पापा चम्पक से कहती है तो चम्पक पहले तो मना करता है उसके बाद वह मन जाता है। और वह अपनी बेटी को लंदन में पढ़ाने की सोच लेता है।

अंग्रेजी मीडियम कहानी

उसके बाद जब वह लंदन की एक यूनिवर्सिटी में उसकी फीस पता करता है तो उसे पता चलता है की वह की फीस तो करोडो में है वह इतना पैसा कहा से लाएगा इस बात को सोच केर निराश हो जात है। जब यह बात तरीका को पता चलती है तो वह बहुत दुखी हो जाती है , लेकिन तरीका के इस दुख को देककर चम्पक उसे लन्दन में पढ़ाने की ठान लेता है। उसके पास में इतना पैसा न होने की वजह से वह अपने दोस्त बबलू जो की लन्दन में रह रहा है उसकी मद्दद मांगता है ,उसका दोस्त तैयार हो जाता है।

अब उसके बाद तरीका ,चम्पक ,दीपक तीनो लंदन के लिए निकाल पड़ते है। जब वे तीनो एयरपोर्ट पे पहुंचते है तो कुछ करनेा की वजह से चम्पक और दीपक का बीजा कैंसिल कर दिया जाता है और वे दोनों लंदन नहीं जा पाते है। और इस तरह तरीका को अकेले ही लन्दन जाना पड़ता है तरीका बहुत देर तक एयरपोर्ट पर उनका इंतजार करते है ,उसके बाद वह अकेले ही लंदन पहुंच जाती है। और यह पर वह बबलू को फ़ोन करती है लेकिन वह फोन नहीं रिसीव करता है वह बहुत डरी हुई होती है। वह वह पर अकेली है। उसके पास पइसे भी नहीं है तब तरीका इंडिया में अपने गजू अंकल को फ़ोन करती है तो गज्जू उसे संतुना देता है और वह वह से तरीका के अकाउंट में पसे डालता है। तरिका को वह पर एक लड़का जिसका नाम अद्वैत है उसी ने वह पर तरीका को घर दिलाता है और वह पर वह रहती है।

इधर चम्पक गजू से लंदन भेजवाने की लिए प्राथना करता है। दुबई में गज्जू का भाई टोनी रहता है। और वह उनको दुबई भेजता है जहा पर वह जाकर उससे मिलते है जो की जाली पासपोर्ट बनाने में एक्सपर्ट है। और वह चम्पक को अब्दुल रजाक और दीपक को सक्ले मुस्ताक के नाम से पासपोर्ट बनाकर एक पाकिस्तानी के रूप में लंदन भेजता है। और जब वे लोग वह पर पहुंचते है तो उनकी मुलाकात इतिफाक से नैना (करीना कपूर खान )नाम की एक लड़की से होती है जो की पुलिस में है और वह उन लोगो से पूछताछ करती है लेकिन वे लोग किसी तरह से वह से बच के भाग निकलते है ,और वे तरीका के पास पहुंच जाते है। और वह जब तरीका के रूम में पह्चते है तो तरीका उनको बगल में रूम लेने को कहती है लेकिन जब दीपक वह जाता है तो उसे पता चलता है की वे घर नैना की माँ का है तो वे उसी डर से वह पर रूम नहीं लेते है। और वापस आकर वह चम्पक को सबकुछ बताता है और उसके बाद चम्पक तरीका को उसके साथ चलने को कहता है लेकिन तरीका नहीं मानती और वह वही रहती है और चम्पक दीपक दूसरी जगह रहने लगते है।

अब दीपक और चम्पक अपने दोस्त को ढूढ़ने लगते है और ढूढ़ते – ढूढ़ते पुलिस स्टेशन पहुंच जाते है और वही उन्हें पता चलता है की बालू जेल में है और वे लोग उसे जमानत पर छुड़ा लेते है। और उन्हें बबलू बताता है की मई यह पर बर्बाद हो गया हु मेरे पास कुछ नहीं बचा है। और अब बबलू तरीका के एडमिशन के लिए कोसिस करने लगता है और धीरे धीरे उनकी मुलाकात नैना की माँ से होती है और एक दिन नैना के माँ दीपक ,चम्पक उनके घर पे होते है तभी वही पर नैना आती है उनका बर्थडे विश करने के लिए और वही पर माँ बेटी में बहेश होती है और नैना गुस्सा होकर चली जाती है।

उसके बाद सुबह दीपक और चम्पक उनके घर पर जाते है और देखते है की नैना की माँ बेहोश पड़ीं है और वे लोग उसे लेकर हॉस्पिटल को लेकर जाते है और उनकी जान बचते है और तभी से नैना को यह बिस्वाश हो जाता है की ये लोग सही है। कुछ दिनों के बाद लंदन की त्रुफोर्ड यूनिवर्सिटी में रहीश बनकर जाते है जहा पर शीट पाने के लिए बोली लगती है ,वह पर त्रुफोर्ड यूनिवर्सिटी में चम्पका ने थ्री हंड्रेड पौंड में शीट खरीद लेता है। क्यूंकि चम्पक के पास इतना पैसा नहीं है इसलिए वह अपने गौव में उसके घसीटे राम का नाम की प्रॉपर्टी भेलूराम को देकर उनसे पैसे लेता है और वह पैसे लेकर जा रहे होते है तभी उनके पीछे पुलिस लग जाती है लेकिन नैना उनको पुलिस से बचा लेती है। और फिर तरीका को ऐसाह होता है की लंदन से अच्छा तो हमारा इंडिया है और वह अपनी पढाई करने के लिए इंडिया वापस लौट आते है।
और मूवी यही पर समाप्त हो जाती है।,अंग्रेजी मीडियम कहानी

मूवी ट्रेलर –

अंग्रेजी मीडियम कहानी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*